Women Life

गीता सिंह: सभी बाधाओं को पार कर सफल बनीं

फ़रीदाबाद की रहने वाली गीता सिंह ने जीवन की कठिनाइयों और कठिनाइयों पर विजय प्राप्त की है। 16 साल की छोटी उम्र में अपने पिता को खोने से लेकर पारिवारिक जिम्मेदारियों के कारण अधूरी शिक्षा की बाधाओं का सामना करने तक, गीता की यात्रा को लचीलेपन और दृढ़ संकल्प द्वारा चिह्नित किया गया है।

आत्म-परिवर्तन की यात्रा

असफलताओं के बावजूद, गीता ने अपनी परिस्थितियों को खुद को परिभाषित करने से मना कर दिया। अपनी शिक्षा पूरी करने के लिए दृढ़ संकल्पित होकर, वह आत्म-परिवर्तन की यात्रा पर निकल पड़ीं। अटूट दृढ़ संकल्प के साथ, उन्होंने न केवल अपनी पढ़ाई पूरी की बल्कि इसके साथ-साथ कंप्यूटर कोर्स भी किया।

उद्यमिता के माध्यम से महिलाओं को सशक्त बनाना

गीता ने अपने समुदाय की अन्य महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए अपने जीवन के अनुभवों को ईंधन के रूप में लिया। उन्होंने लक्ष्य ग्रामीण विकास संस्था की स्थापना की, जिसका उद्देश्य ग्रामीण महिलाओं को प्रशिक्षण और अवसर प्रदान करना था। इस पहल के माध्यम से, उन्होंने महिलाओं को स्वरोजगार के लिए कौशल से लैस करने के लिए सिलाई और कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्रों के साथ-साथ ब्यूटी पार्लर भी स्थापित किए। गीता के प्रयासों के परिणामस्वरूप विभिन्न स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से 3,400 से अधिक महिलाओं का सशक्तिकरण हुआ है, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में महिला उद्यमिता के परिदृश्य में क्रांति आ गई है।

शिक्षा और जागरूकता पहल

गीता का प्रभाव व्यावसायिक प्रशिक्षण से भी आगे तक फैला हुआ है। वह केंद्रीय श्रमिक शिक्षा बोर्ड के सहयोग से झुग्गी-झोपड़ियों और गांवों में शैक्षिक कार्यक्रम संचालित करके हाशिए पर रहने वाली महिलाओं के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए अथक प्रयास करती हैं। आज तक, उन्होंने महिला सशक्तिकरण और शिक्षा के मुद्दों पर प्रकाश डालते हुए 105 जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए हैं।

सबके लिए शिक्षा

शिक्षा के महत्व को पहचानते हुए, गीता ने स्कूल छोड़ने वाली लड़कियों के लिए कंप्यूटर केंद्र स्थापित किए, और उन्हें बुनियादी कंप्यूटर शिक्षा प्रदान की। इसके अतिरिक्त, वह सरकारी स्कूलों में वंचित बच्चों के नामांकन की वकालत करती है, जिससे कचरा बीनने की गतिविधियों में लगे 200 बच्चों को प्रवेश की सुविधा मिलती है।

वित्तीय सशक्तिकरण

गीता की सफलता की यात्रा वित्तीय चुनौतियों से रहित नहीं थी। उन्होंने अपनी उद्यमशीलता की भावना और अपने उद्देश्य के प्रति प्रतिबद्धता का प्रदर्शन करते हुए, अपनी पहल के वित्तपोषण के लिए राष्ट्रीय कृषि ग्रामीण विकास बैंक से ऋण लिया। विवेकपूर्ण प्रबंधन और दृढ़ संकल्प के माध्यम से, गीता ने अपने व्यवसाय को एक संपन्न उद्यम में बदल दिया, और साबित कर दिया कि कौशल, साहस और दृढ़ता के साथ, कुछ भी हासिल किया जा सकता है।

गीता सिंह की कहानी आशा और प्रेरणा की किरण के रूप में काम करती है, यह दर्शाती है कि कैसे एक व्यक्ति का दृढ़ संकल्प पूरे समुदायों का उत्थान कर सकता है। उनकी यात्रा शिक्षा, उद्यमिता और सामुदायिक सशक्तिकरण की परिवर्तनकारी शक्ति को रेखांकित करती है।

अपने दृष्टिकोण के प्रति गीता की अटूट प्रतिबद्धता ने न केवल उनके जीवन को बदल दिया, बल्कि बदलाव की एक चिंगारी भी जलाई जो सभी के लिए एक उज्जवल भविष्य का मार्ग रोशन करती रही।

रविवर विचार ऐसी हर महिला की कहानियों को सामने लाने और हमें उनके जीवन से अवगत कराने की प्रतिबद्धता जताई है।
इस में WomensWebXMahilaMoney प्रभाव श्रृंखला, हम आपके लिए मध्य प्रदेश के रायसेन की इन महिलाओं जैसे उद्यमियों को लेकर आए हैं, जिनकी न केवल आगे बढ़ने की महत्वाकांक्षा थी, बल्कि उन्होंने अपने सपनों को साकार करने के लिए आवश्यक कदम भी उठाए। अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए 25 लाख तक के ऋण के लिए आवेदन करें महिला मनी ऐप डाउनलोड कर रही हूं गूगल प्लेस्टोर पर या विजिटिंग पर वेबसाइट यहाँ.

छवि स्रोत: गेटी से त्रिलोक्स, कैनवा प्रो के माध्यम से

यह पोस्ट पसंद आया?

विमेंस वेब पर 100000 महिलाओं से जुड़ें जिन्हें हमारा साप्ताहिक मेल मिलता है और वे हमारे आयोजनों, प्रतियोगिताओं और सर्वोत्तम पुस्तकों को कभी नहीं चूकतीं – आप यहां हजारों अन्य महिलाओं के साथ अपने विचार और अनुभव साझा करना भी शुरू कर सकती हैं!

पोस्ट गीता सिंह : सभी बाधाओं को पार करते हुए सफल होना पर पहली बार दिखाई दिया महिला वेब.


Source link

Bollywoodnews

बॉलीवुड न्यूज़ टुडे आपको बॉलीवुड की ताज़ा खबरें, मनोरंजन समाचार, फिल्में, गॉसिप और सेलेब्रिटी न्यूज़ प्रदान करता है। इस वेबसाइट पर आपको बॉलीवुड के सुपरस्टारों के बारे में जानकारी, फिल्मों के ट्रेलर, बॉक्स ऑफिस कलेक्शन, विवाद और और भी बहुत कुछ मिलेगा। अगर आप बॉलीवुड के दीवाने हैं तो बॉलीवुड न्यूज़ टुडे को अभी विजिट करें और अपने पसंदीदा स्टार्स के साथ जुड़े रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button